-->

31/3/21

इन सरकारी बचत योजनाओं में पैसा निवेश करने से आप भी बन सकते है करोड़पति। How to become Carorepati?

 इन सरकारी बचत योजनाओं में पैसा निवेश करने से आप भी बन सकते है करोड़पति। कैसे?

वर्तमान परिवेश में हर युवा करोड़पति बनने का ख्वाब देखता है और देखना भी चाहिए लेकिन देखने के साथ-साथ अपने सपनों को पूरा करने का प्रयास भी निरन्तर करते रहना चाहिए। यदि आपके अन्दर भी बचत करने की आदतें है, और आपका कोई फिजूल खर्च नही है तो आपकों करोड़पति बनने से कोई नही रोक सकता है, इसलिए अपने भविष्य को बेहतर बनाने के लिए आपकों इन योजनाओं में पैसा जरूर लगाना चाहिए। 

यहाँ पर ऐसी ही सिर्फ दो योजनाओं के बारे में जान लेना जरूरी है जिसमें निरन्तर बचत करके आप करोड़पति बन सकते हैं।

इन सरकारी बचत योजनाओं में पैसा निवेश करने से आप भी बन सकते है करोड़पति। How to become Carorepati?
(1)- लोक भविष्य निधि खाता ( PUBLIC PROVIDENT FUND ):- लोक भविष्य निधि खाता जिसे अंग्रेजी में "पब्लिक प्रॉविडेन्ट फण्ड" भी कहते है। लोक भविष्य निधि खाता भारत सरकार द्वारा संचालित बहुत अच्छी निवेश योजना है उक्त खाते को आप किसी भी राष्ट्रीयकृत बैंक, डाकघर या निजी क्षेत्र के बैंक (जिन्हें उक्त खाता खोलने हेतु अधिकृत किया गया हो) में खोल सकते है। पी.पी.एफ खाता की सबसे अच्छी बात ये है कि इसमें मिलने वाला ब्याज, आपका मूलधन तथा परिपक्वता धनराशि पूरी तरह से करमुक्त है, अर्थात् आपको एक रूपये का भी कर के रूप में  देने की जरूरत नही है। सरकार द्वारा पी.पी.एफ में जमा करने की सीमा को न्यूनतम 500 तथा अधिकतम 150000 (एक लाख पचास हजार) रखी है। इससे ज्यादा आप एक वर्ष में जमा नही कर सकते है।

आइये पाँच बिन्दुओं के माध्यम से उक्त बचत योजना की विशेषताओं के बारे में जानते है।

(1)- इन्कम टैक्स के नियमों के अनुसार लोक भविष्य निधि खाते में परिपक्वता पर मिलने वाली धनराशि तथा उस पर मिलने वाला समस्त ब्याज पूर्णतयः करमुक्त होता है। 

(2)- चूँकि पी.पी.एफ खाता 15 वर्षों के लिए होता है परन्तु यदि आप चाहे तो उक्त खाते को 15 वर्ष के पश्चात् 5, 10 या 15 वर्षों के लिए आगे भी बढ़ा सकते है, जिससे इस पर मिलने वाला कम्पाउंडिंग ब्याज से आपकी धनराशि लाखों से करोड़ में हो जायेगी।

(3)- पी.पी.एफ का लॉक इन पीरियड चूँकि 15 वर्षों के लिए होता है लेकिन 3 वर्ष के पश्चात् इसमें से आप पार्शियली विड्रॉल भी ले सकते है, तथा 7 वित्तीय वर्ष के पश्चात् पूरे होने पर आप इससे ऋण भी ले सकते हैं

(4)- जैसा कि ऊपर बताया गया है कि उक्त खाता आप किसी भी राष्ट्रीयकृत बैंक, निजी बैंक या डाकघर में खोल सकते हैं तथा किसी भी बैंक से अन्य बैंक की शाखा में अथवा डाकघर से किसी भी बैंक में स्थानान्तरित (ट्रांसफर) भी करा सकते हैं।

(5)- हॉल के वर्षों में पी.पी.एफ की ब्याज दरों में कटौती की गयी है, तथा वर्तमान में इस पर 7.1 प्रतिशत का ब्याज मिल रहा है, लेकिन उक्त योजना एन.एस.सी. पर मिलने वाले ब्याज 6.8 प्रतिशत से ज्यादा ही हैं। लेकिन कम्पांउडिंग ब्याज मिलने से ये बहुत आर्कषक हो जाती है, इस बचत योजना में धैर्य की सख्त जरूरत हैं।

इन सरकारी बचत योजनाओं में पैसा निवेश करने से आप भी बन सकते है करोड़पति। How to become Carorepati?

चार्ट के माध्यम से आपने देखा कि 10000 की एक निश्चित धनराशि को प्रत्येक माह 15 वर्षो तक जमा करने पर यह धनराशि 3155680 हो गयी तो यदि उक्त खाते को पुनः 5 वर्ष के लिए आगे बढ़ाया जाता है तो यही धनराशि 

20 वर्षो में 51,64,786 रूपये 

25 वर्षो में 79,95,854 

तथा

30 वर्षो में 1,19,85,164.00 (एक करोड़ उन्नीस लाख पच्चासी हजार एक सौ चौसठ रूपये) हो जाती है।

इसी से इस बात का अन्दाजा लगाया जा सकता है कि उक्त योजना बहुत ही सुरक्षित और करमुक्त बचत योजना है। इसमें निवेश करके आप अपने सपनो को पूरा कर सकते हैं. 

(2) - सुकन्या समृद्धि योजनाः-

                    उक्त योजना माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के प्रथम प्रधानमंत्रित्व कार्यकाल में 22 जनवरी,  2015 को अस्तित्व में लाई गयी, उक्त योजना सरकार द्वारा कन्याओं के लिए लाई गयी, और बेहतरीन ब्याज दर पर उक्त योजना को लाया गया, जिससे माता-पिता अपनी पुत्री की शिक्षा और विवाह के लिए एक अच्छी धनराशि को इकट्ठा कर सकें। 

उक्त योजना बेटी के नाम से खोली जाती है, जो वास्तविक खाताधारक है परन्तु माता-पिता अपनी पुत्री के खाते का संचालन करते हैं जिन्हें जमाकर्ता की संज्ञा दी जाती है। जब तक बेटी 18 वर्ष की नही हो जाती उक्त खाते का संचालन माता-पिता के द्वारा ही किया जाता है, परन्तु बेटी के 18 वर्ष पूरे होते ही वह स्वयं अपने खाते को संचालित कर सकती है।

इस योजना के पाँच महत्वपूर्ण विशेषताओं को जानना जरूरी है।

(1)- उक्त खाते को 15 वर्ष तक चलाना जरूरी है, यदि पुत्री की उम्र 1 वर्ष से कम है तो 15 वर्ष तक उक्त खाते में धनराशि जमा करना है, तत्पश्चात् 16वें, 17वें, 18वें, 19वें, 20वें, तथा 21वें वर्ष तक उस पर अपने आप कम्पाउंडिंग ब्याज प्राप्त होता रहेगा।

(2)- सुकन्या खाता अधिकतम दो पुत्रियों के लिए खुलवाया जा सकता है, इसकी एक विशेषता और है कि गोद ली गयी बेटी के नाम से भी खाता खुलवाया जा सकता है।

(3)- पुत्री के 18 वर्ष होने पर इससे आप धनराशि निकाल सकते है, बशर्तें आपकी बेटी की उच्च शिक्षा का प्रमाण आपकों देना होगा और स्कूल/विश्वविद्यालय की फीस बुक भी दिखानी होगी।

(4)- वर्तमान में इस पर सबसे अच्छा ब्याज 7.6 दिया जा रहा है, जो अन्य बचत योजनाओं से ज्यादा है, बस आप इसमें से कोई भी ऋ़ण नही ले सकते हैं। न्यूनतम धनराशि 250 तथा अधिकतम 150000 एक वर्ष हेतु निर्धारित की गयी है। जिसे आप मासिक, तिमाही, छमाही अथवा सलाना विकल्प के आधार पर चुन सकते है। उक्त खाता भारतवर्ष में किसी भी बैंक, डाकघर में खोला जा सकता है, तथा भारत में किसी भी शाखा में स्थानान्तरित किया जा सकता है।

(5)- सुकन्या समृद्धि योजना पूरी तरह से करमुक्त है जिस पर आपकों 1 रूपये का भी कर नही देना पड़ता है, और निश्चिंत होकर आप अपनी बेटी को पढ़ाकर उसके सपनों को साकार कर सकते हैं।

21 वर्ष में जब यह खाता पूरा होता है तो परिपक्वता पर आपको कितनी धनराशि मिलती है। आइये जानते हैं।

12000 प्रत्येक वर्ष जमा करने पर :- 5,27,445

24000 प्रत्येक वर्ष जमा करने पर :- 10,54,890

36000 प्रत्येक वर्ष जमा करने पर :- 15,82,336

48000 प्रत्येक वर्ष जमा करने पर :- 21,09,781

60000 प्रत्येक वर्ष जमा करने पर :- 26,37,227

72000 प्रत्येक वर्ष जमा करने पर :- 31,64,672

84000 प्रत्येक वर्ष जमा करने पर :- 36,92,117

96000 प्रत्येक वर्ष जमा करने पर :- 42,19,563

108000 प्रत्येक वर्ष जमा करने पर :- 47,47,008

120000 प्रत्येक वर्ष जमा करने पर :- 52,74,454

तथा 

150000 प्रत्येक वर्ष जमा करने पर :- 65,93,067

यहाँ पर यह भी स्पष्ट करना है कि यदि आप वार्षिक किश्त जमा करते हैं तो आपकों थोड़ी ज्यादा धनराशि ही मिलेगी।

आशा करता हूँ बचत से जुड़ी उक्त योजनाओं को जानने के बाद आप भी आज से बचत की आदत डालेंगे।













Previous Post
Next Post

नमस्कार दोस्तों मेरा नाम गोविन्द भण्डारी है मेरी उम्र 35 वर्ष है। अंग्रेजी तथा समाजशास्त्र से एम.ए (परास्नातक) करने के बाद वर्तमान में उत्तर प्रदेश राज्य सेवा में कार्यरत हूँ। मुझे कम्प्यूटर पर कार्य करना सबसे ज्यादा पसन्द है और मैं अपने समय का 30 प्रतिशत से भी ज्यादा समय कम्प्यूटर पर डिजाइनिंग, सर्फिंग, और अन्य रोचक जानकारियों को इकट्ठा करने में ही बिताता हूँ। मुझे ब्लॉग लिखना, नेट सर्फिंग करना, फोटोग्राफी करना, किताबें पढ़ना, रोचक जानकारियों को इकट्ठा करना, घूमना, बहुत ज्यादा पसन्द है। उक्त के अलावा मुझे टेक्नोलॉजी से जुड़ी और हर प्रकार की जानकारी रखना, सीखना पसन्द करता हूँ। उक्त के अलावा माइक्रोसॉफ्ट वर्ड, पावर पाइंट प्रेजेंटेशन डिजाइनिंग, और मोबाइल एवं कम्प्यूटर के टिप्स एवं ट्रिक्स के बारे में भी सभी जानकारियों को सीखना मुझे पसन्द है। आशा करता हूँ कम शब्दों में दी गयी मेरे बारे में जानकारी आपकों पसन्द आयी होगी।

Related Posts